Search
  • ऋषभ पाण्डेय

क्या आप भी 'POUT' या 'Duck Face' बना कर सेल्फी लेते हैं?- तो जरूर पढियेगा..

ज़रा सोचिए, अगर अभी भी हमारे पास पूंछ होती थी तो हम क्या करते, लोग सूट-पैंट कैसे पहनते और औरतें या लड़कियां साड़ी कैसे पहनती और सबसे बड़ी बात आराम से घंटों बैठ कैसे पाते..

खैर ये तो हुई बिना सिर-पैर वाली (मतलब कुछ भी टाइप) बातें और अब कुछ जरूरी बात जिसके बारे में ये लिखने का विचार आया शायद आप भी इसे पढें और समझें... कहते हैं कि इंसानों की पूंछ हुआ करती थी, जो कि अनुपयोगी होने के कारण धीरे-धीरे शरीरे से गायब हो गयी। ठीक वैसे ही इंसानी शरीर में समय के साथ उपयोगिता और उपयोगिता और अनुपयोगिता के हिसाब से कई और भी बदलाव आते रहे हैं। आपको डोनाल्ड डक तो याद ही होगा.. क्वक्क, क्वक करके बोलता था पीली चोंच और सफेद चेहरे के साथ (ज्यादा अच्छे से समझाने के लिए फोटो लगा दी है।)

दोनों होंठों को सिकोड़ कर आगे की ओर खींचकर दोनों गालों में थोड़ा सा गड्ढा बनाते हुए या फिर दूसरे शब्दों में एक बत्तख जैसे होठों को बाहर की और निकाल कर खुद की तस्वीर (सेल्फी) लेना आम-बोलचाल की भाषा में पाउट (Pout) या डक फेस (Duck Face) कहलाता है, आज कल यह एक प्रचलन बनता जा रहा है जिसका प्रभाव हमारी मानसिकता पर कुछ ऐसा होता जा रहा है कि हम कैमरा देखते ही पाउट बना लेते हैं। और अगर हमें ऐसा करना नहीं आता तो चार लोग बताने वाले तो मिल ही जाते हैं कि "इधर देखो, (चेहरे को बत्तख जैसा बनाते हुए) उम्म्म... होंठ को ऐसा करके कैमरे की ओर देखो.." इसकी शुरूआत के बारे में तो मैं ज्यादा कुछ गूगल पर भी नहीं खोज पाया (आपको मिले तो बताइएगा जरूर), लेकिन जितना पता चला वो ये कि, एक कार्यक्रम के दौरान हॉलिवुड अभिनेत्री मैरिलिन (Marilyn Monroe) जी ने अपने प्रशंसकों और मीडिया को एक तस्वीर दी जिसमें उन्होनें कैमरे की ओर देखते हुए एक सार्वजनिक चुंबन (किसिंग) वाले पोज़ के साथ तस्वीर क्लिक करायी (जो की आप सभी नीचे देख भी सकते हैं) जो अखबारों व सोशल मीडिया इत्यादि पर आने के बाद लोगों में सुंदरता तस्वीर पाने वाला एक पोज़ बन गया जिसे हर किसी ने (विशेषतः युवा वर्ग ने) अपनाया और आज वो हर सेल्फी लवर्स का पसंदीदा पोज़ बन चुका है।

In Photo- Marilyn Monroe give a pout आज के समय के इस वायरल ट्रेंड ने मेरे दिमाग में कई सवाल खड़े कर दिये हैं शायद आप अपने सुझावों द्वारा मेरे प्रश्नों का उत्तर दे सकने में सक्षम हों। और शायद कुछ प्रमुख सवाल तो आपको बता ही देना सही होगा, जैसे- क्या इस पाउट या डक फेस या किस फेस का हमारे आनी वाली नस्ल पर या हमारे चेहरे की बनावट पर कोई असर पड़ सकता है?? क्या कुछ वर्षों बाद हमारे दो आंखों, एक नाक, गुलाब की पंखुड़ियों जैसे होंठ वाला सामान्य सा चेहरा एक बत्तख के होंठ से मिलते जुलते चेहरे में तो नहीं बदल जाएगा?? और तो और हमारे डिंपल पड़ने वाले रसगुल्ले जैसे गालों का क्या होगा जब ये हर समय खिंचते ही रहेंगे या जब हम डक फेस में ही ढलते जाएंगे??

यूं तो सेल्फी लेने के कई और भी तरीके है जैसे जीभ को होंठ के किनारे थोड़ा सा निकाल कर दिखाते हुए, दो उंगलियों को वी शेप में बना कर दिखाते हुए, भौंहें चढाकर थोडा सा सोचने का नाटक करते हुए वगैरह वगैरह.. सबकी अपनी पसंद किसको खुद की कैसी तस्वीर ज्यादा पसंद आती है। मर्जी आपकी, खुशी आपकी बाकि बोलने वालों से क्या फर्क पड़ना है, सुनो सबकी करो अपने मन की.. सफलता के मूल मंत्रों में से एक हैं लेकिन सबकी सुनने के बाद सोच कर निर्णय लेना जरूरी है। अपनी खुशी जरूरी है लेकिन दूसरों के दिखावे वाली नही जो अन्दर से आये वो वाली.... बातें बहुत हैं शब्द कम, अभी कई ब्लॉग बाकी है लिखने को बहुत कुछ है लिखने को आप बताते जाइए मैं लिखूंगा पसंद आपकी शब्द मेरे...
6 views

©2019 by Rishabh Pandey.