Search
  • ऋषभ पाण्डेय

क्या आपको पता है, हिंदी में 12 महीनों के नाम?

नमस्कार मित्रों,

"होली फागुन मास में आती है और सावन मास में शंकर जी की पूजा की जाती है..."

अक्सर आपने ऐसा सुना होगा लेकिन क्या आपको पता है की फागुन किस अंग्रेजी महीने को कहते हैं और सावन किसको?



आप में से कई सारे लोग ग्रामीण क्षेत्रों से जुड़े होंगे या अगर आप कभी गांव की तरफ जाते हैं, तो अक्सर आपने अपने बड़े बुजुर्गों को हिंदी महीने में तारीखें बताते हुए सुना होगा और अगर आपको उसकी जानकारी नहीं है तो आप हैरान भी हो जाते होंगे की वह क्या और कैसी तारीख बता रहे हैं। मेरा आज का ब्लॉग इसी संदर्भ मैं है की हिंदी नव वर्ष और हिंदी महीनों के बारे में आप सभी को बताऊं, जिससे आगे आप किसी के मुंह से हिंदी महीने सुनने पर चौके ना और आप भी यथोचित जवाब दे सकें। यह कोई शर्म की बात नहीं है कि आपको हिंदी महीने याद हैं या नहीं लेकिन हिंदी नव वर्ष मनाने वाले को हिंदी महीने भी पता होना चाहिए। इसीलिए मैंने इस पूरे प्रकरण को बहुत ही सरल और स्पष्ट रूप से समझाने का प्रयास किया है।


पहले समझिए हिंदी मास (महीने) को:

जिस प्रकार अंग्रेजी कैलेंडर का हर माह 30 या 31 दिनों का होता है उसी प्रकार हिंदी महीना या मास दो पक्षों में बटा होता है, कृष्ण पक्ष (अमावस्या) और शुक्ल पक्ष (पूर्णिमा) यह पक्ष 15-15 दिन के होते हैं जिसमें 14 दिन के बाद अमावस्या (15 वां दिन जब चांद पूरी तरह से ढका होता है और अंधेरी रात होती है) और फिर 14 दिन के बाद पूर्णिमा (15 वां दिन जब चांद पूरी तरह से चमकता है और उजाली रात होती है) आती है। जिस प्रकार अंग्रेजी कैलेंडर जनवरी से शुरू होता है इसी प्रकार हिंदू नव वर्ष की शुरुआत होती है- चैत्र मास (अंग्रेजी के अप्रैल मध्य से मई मध्य तक 30 दिन) से।


क्रमशः 12 हिंदी महीने इस प्रकार हैं:

1. चैत्र (अंग्रेजी महीना- अप्रैल-मई)

2. वैशाख (अंग्रेजी महीना- मई-जून)

3. ज्येष्ठ (अंग्रेजी महीना- जून-जुलाई)

4. आषाढ़ (अंग्रेजी महीना- जुलाई-अगस्त)

5. श्रावण (अंग्रेजी महीना- अगस्त-सितंबर)

6. भाद्रपद (अंग्रेजी महीना- सितंबर-अक्टूबर)

7. अश्विन (अंग्रेजी महीना- अक्टूबर-नवम्बर)

8. कार्तिक (अंग्रेजी महीना- नवम्बर-दिसम्बर)

9. मार्गशीष (अंग्रेजी महीना- दिसम्बर-जनवरी)

10. पौष (अंग्रेजी महीना- जनवरी-फरवरी)

11. माघ (अंग्रेजी महीना- फरवरी-मार्च)

12. फाल्गुन (अंग्रेजी महीना- मार्च-अप्रैल)


आशा करता हूँ कि आपको इस लेख के माध्यम से बारहों हिंदी महीनों के नाम क्रमवार रूप (सीरियल वाइज़) से याद करने में आसानी होगी। आपको ऐसी ही और भी जानकारी देने के लिए मैं अब आपके बीच आता रहूंगा।

आप और किस विषय पर ब्लॉग चाहते हैं, जरूर बताएं जिससे मैं उसको सरलतम शब्दों में आप तक पहुँचाने का प्रयास करता रहूँगा।

अगर अच्छा और ज्ञानवर्धक लगे तो दोस्तों के साथ भी साझा (शेयर) करें।

44 views2 comments

©2019 by Rishabh Pandey.